योगी आदित्यनाथ: गंगा की सफाई के लिए हर तकनीक अपनाई जा रही

By - Oct 09, 2018 08:36 AM
योगी आदित्यनाथ: गंगा की सफाई के लिए हर तकनीक अपनाई जा रही

लखनऊः नमामि गंगे परियोजना का निरीक्षण करने पहुंचे उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि गंगा का पानी तो साफ है लेकिन बहुत कम मात्रा में पानी शुद्ध होकर नदी में आ रहा है। इस पर कार्यदायी संस्था ने उन्हें आश्वस्त किया कि आगे इसकी क्षमता बढ़ाई जाएगी। इस दौरान उनके साथ केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी भी मौजूद रहे। सीएम ने कहा कि नमामि गंगे परियोजना में पीएम चाहते हैं कि गंगा अविरल और निर्मल बने। आज गडकरी इस विभाग के मंत्री हैं। उन्होंने हमें बड़ा सहयोग किया है। गंगा यूपी में सबसे बड़े हिस्से से होकर गुजरती है। हमें कुंभ से पहले गंगा को अविरल और निर्मलता जरूरी है। हम गंगा की सफाई के लिए कई तकनीक अपना रहे हैं। एसटीपी लगाकर हम काम कर रहे हैं, लेकिन उसमें खर्च बहुत है। जो बैग यहां लगा है, ऐसे 4 बैग यहां लगेंगे। शुद्ध पानी यहां दिखाई देगा। 
इतना ही नहीं योगी ने कहा कि जिन नालों को टेप नहीं किया जा सका, जहां काम चल रहा है। वहां इस विधि का प्रयोग करेंगे ताकि कुंभ में अविरल निर्मल गंगा मिल सके। 3-4 तकनीक हम अपना रहे, उसमें से एक विधि ये है।बता दें कि सीएम योगी ने गडकरी के साथ नमामि गंगे प्रोजेक्ट के तहत कुकरैल नाले पर 3 एमएलडी क्षमता का सीरियल शोधन संयत्र का निरीक्षण किया। इस दौरान मीडिया से बातचीत करते हुए उन्होंने ये जानकारी दी।