स्मिथ-वाॅर्नर के मामले पर बहस करने से सचिन ने किया इंकार

By - Nov 02, 2018 08:43 AM
स्मिथ-वाॅर्नर के मामले पर बहस करने से सचिन ने किया इंकार

महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर का मानना है कि वह इस बहस में नहीं पड़ना चाहते कि स्टीव स्मिथ और डेविड वार्नर पर लगा प्रतिबंध कम किया जाए या नहीं। मार्च में दक्षिण अफ्रीका में गेंद से छेड़छाड़ प्रकरण में भूमिका के कारण स्मिथ और वार्नर पर एक-एक साल जबकि कैमरन बेनक्राफ्ट पर नौ महीने का प्रतिबंध लगाया गया था। आस्ट्रेलियाई क्रिकेटरों के संघ ने आसट्रेलियाई क्रिकेट की सांस्कृतिक समीक्षा से जुड़ी रिपोर्ट आने के बाद इनपर पर लगे प्रतिबंध हटाने की मांग की थी। यह पूछने पर क्या वह इन दोनों खिलाड़ियों को खेलते हुए देखना चाहेंगे, तो तेंदुलकर ने कहा, ‘‘निश्चित तौर पर मैं अच्छा क्रिकेट देखना चाहूंगा (आस्ट्रेलिया में)। वे दोनों (स्मिथ और वार्नर) विश्व स्तरीय खिलाड़ी हैं। इसलिए मैं इस बहस में नहीं पड़ना चाहता कि प्रतिबंध हटाया जाए या नहीं।’’
हमारे पास आॅस्ट्रेलिया में जीतने का माैका 
स्मिथ और वार्नर के आस्ट्रेलियाई टीम का हिस्सा नहीं होने के कारण भारत के पास इस देश के दौरे पर कुछ विशेष करने का बेहतरीन मौका है। आगामी दौरे में भारत की संभावनाओं के बारे में पूछे जाने पर तेंदुलकर ने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि हमारे पास बड़ा मौका है (आस्ट्रेलिया में)। आपने (रिपोर्टर ने) सही पूछा, आस्ट्रेलियाई टीम उस तरह की टीम नजर नहीं आती जैसी हुआ करती थी और स्मिथ तथा वार्नर भी नहीं हैं। यह वहां जाकर कुछ विशेष करने का बेहतरीन मौका है।’’ भारत दौरे की शुरुआत तीन टी20 मैचों के साथ करेगा जिसके बाद छह दिसंबर से एडिलेड में चार मैचों की टेस्ट श्रृंखला खेली जाएगी।          
खलील अहमद की तारीफ की
तेंदुलकर ने बाएं हाथ के युवा तेज गेंदबाज खलील अहमद की भी तारीफ करते हुए कहा कि उन्होंने अब तक इस गेंदबाज को जितना भी देखा है उसमें वह अच्छा नजर आया है। एशिया कप में प्रभावित करने वाले खलील ने सोमवार को मुंबई में वेस्टइंडीज के खिलाफ चौथे वनडे में तीन विकेट चटकाए। डीवाई पाटिल स्टेडियम के बाद अकादमी का शिविर बांद्रा में छह से नौ नवंबर तथा पुणे के बिशप्स स्कूल में 12 से 15 और 17 से 20 नवंबर तक लगाया जाएगा।