नवरात्रि व्रत आहार के नियमों को भूलकर भी न करें इग्नोर

By - Oct 08, 2018 05:09 AM
नवरात्रि व्रत आहार के नियमों को भूलकर भी न करें इग्नोर

नवरात्र में जहां सभी लोग पूजा-पाठ के नियमों का विधि-विधान से पालन करते हैं, लेकिन व्रत के दौरान आहार नियमों का पालन करना अक्सर भूल जाते हैं। जितना जरूरी हमारी आध्यात्मिक उन्नति के लिए पूजा-अर्चना होती है उतनी ही जरूरी व्रत के समय इन खास आहार नियमों का पालन करना भी है, क्योंकि इससे जहां आपके शरीर को पोषण मिलता है,वहीं आपका मूड भी अच्छा रहता है। इस नवरात्रि में आप हेल्दी और फिट रहें इसके लिए आज हम आपको कुछ खास आहार नियम बता रहे हैं। 
नवरात्रि के खास व्रत आहार नियम :
1. तरल पदार्थों अत्याधिक सेवन - 9 दिनों के व्रत और उपवास के दौरान अधिकतर लोग अपनी डाइट का ध्यान नहीं रखते हैं जिससे दूसरे या तीसरे दिन से ही तबीयत बिगड़ने लगती है जिससे डिहाईड्रेशन,बदहजमी,सिरदर्द और शरीर में कमजोरी जैसी समस्या होने लगती है। अगर आप इन सब परेशानियों से बचना चाहते हैं, तो आप ज्यादा से ज्यादा पानी,छाछ,नींबू पानी,नारियल पानी जैसे तरल पदार्थों का सेवन करें।
2. फलों का सेवन करें - व्रत और उपवास के दौरान फलों का नियमित सेवन करना बेहद ही फायदेमंद होता है,क्योंकि प्राकृतिक रूप से फलों में मौजूद विटामिन्स और मिनरल्स, फाइबर हमारे शरीर को सीधे तौर पर मिल जाते हैं। आप फलों की चाट भी बना कर सेवन कर सकते हैं।
3. हल्का और ठोस आहार - अगर आप व्रत और उपवास में शरीर में कमजोरी महसूस कर रहे हैं तो, आप हल्का लेकिन ठोस आहार का सेवन भी कर सकते हैं, इसके लिए आप सेंधा नमक से बनी साबूदाने की खिचड़ी, व्रत के आलू आदि खा सकते हैं। इससे आपके शरीर के लिए जरूरी कार्बोहाईड्रेट मिल सकेगा।
4. दही का सेवन करें - व्रत और उपवास के दौरान दिन में साबूदाने की खिचड़ी,समा के चावल या व्रत वाले आलू के साथ दही का सेवन करना बेहद ही लाभदायक होता है, क्योंकि जहां दही में कैल्शियम,प्रोटीन जैसे गुणकारी तत्व होते हैं वहीं इसका सेवन करने से बार-बार लगने वाली भूख का महसूस नहीं होती है।
5. रोस्टेड ड्राईफ्रूट्स का करें सेवन - नवरात्रि के व्रत और उपवास के समय आपको तला-भूना खाना खाने की जगह रोस्टेड ड्राईफ्रूट्स का सेवन करना चाहिए,क्योंकि मौसम बदलने के वक्त हमारा इम्यून सिस्टम बेहद कमजोर होता है,जबकि तले-भूने भोजन को पचाने में शरीर को एक्स्ट्रा मेहनत करनी पड़ती है।
अगर आप लगातार इसका सेवन करते हैं तो आपको पेट या स्किन से जुड़ी कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।