2 साल पहले अपहरण कर की जबरन शादी, फिर कराया गैंगरेप

By - Oct 29, 2018 07:41 AM
2 साल पहले अपहरण कर की जबरन शादी, फिर कराया गैंगरेप

सोनीपत जिला के गन्नौर में एक विवाहित महिला ने अपने पति पर अपहरण, जबरन शादी और अपने तीन साथियों के साथ मिलकर बंदूक की नोक उसका सामूहिक बलात्कार करने का आरोप लगाया है. महिला ने पुलिस शिकायत में कहा है कि आरोपियों ने उसके भाई के मोबाइल पर भी धमकी भरे मैसेज भेजे, जिससे परेशान होकर भाई ने आत्महत्या कर ली. हरियाणा पुलिस प्रमुख को दी गई शिकायत के बाद गन्नौर थाना में आरोपी पति, उसकी मां और कई अन्य लोगों के खिलाफ सामूहिक बलात्कार, दहेज प्रताड़ना, अपहरण और यातनाएं देने का मामला दर्ज किया गया है.

पीड़िता ने अपनी शिकायत में कहा है कि वर्ष 2016 में आरोपी पति अंकित उसके घर आया था और उसके बाद शादी के लिए दबाव बनाने लगा. उसके बाद आरोपी ने सितंबर 2016 को अपनी मां और साथियों के साथ मिलकर पीड़िता का उसके कालेज के बाहर से अपहरण कर लिया. आरोपी और उसकी मां ने पीड़िता को धमकाया कि अगर वह उसे शादी नहीं करेगी तो उसे जान से मार दिया जाएगा. पीड़िता के मुताबिक आरोपियों ने एक अक्टूबर 2016 को पानीपत कोर्ट में शादी के कागजात तैयार करवाए और 3 अक्टूबर 2016 को पीड़िता को उसके कॉलेज से जबरन उठाकर पानीपत कोर्ट में जबरन कोर्ट मैरिज करवा दी गई.

आरोपी अंकित शादी के बाद उसे हरिद्वार ले गया और पीड़िता को धमकाता रहा कि अगर उसने अपना मुंह खोला तो उसके परिवार पर हमला करवा दिया जाएगा. पीड़िता ने आपबीती बयान करते हुए कहा है कि हरिद्वार के बाद आरोपी उसे समालखा ले कर आए, जहां उसे एक कमरे में बंधक बनाकर रखा गया. आरोपी अंकित उसके साथ अप्राकृतिक यौन संबंध बनाकर परेशान करता था. इस दौरान वह जब गर्भवती हो गई तो अंकित की मां ने उसका लिंग परीक्षण करवाया. जांच में पता चला कि उसके पेट में बेटा नहीं बेटी है तो अंकित और उसका परिवार पीड़िता को लगातार तंग करने लगा.

उनकी ओर से पीड़िता का जबरन गर्भपात करवाने की कोशिश की गई जिससे उसके पेट में पल रही बेटी की प्रीमेच्योर डिलीवरी हो गई. बेटी के जन्म के बाद परेशानियों का दौर खत्म नहीं हुआ. डिलीवरी के एक महीने बाद अंकित और उसके तीन साथियों ने पीड़िता के साथ गन प्वाइंट पर बंधक बना कर सामूहिक बलात्कार किया. पीड़िता ने जब इसके खिलाफ आवाज उठाने की कोशिश की तो उसकी सास और परिवारवालों ने उसे धमकाकर चुप करा दिया. गन्नौर पुलिस ने पीड़िता की शिकायत के आधार पर मामला दर्ज कर लिया है, लेकिन अभी तक आरोपी पति, उसकी मां और दूसरे आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हुई है.