टिकट न मिलने पर नाराज मृगांका सिंह ने कहा- टिकट की उम्मीद थी पर खुश हूं कि भाई को चुनाव लड़ने का मौक

By - Apr 07, 2019 06:20 AM
टिकट न मिलने पर नाराज मृगांका सिंह ने कहा- टिकट की उम्मीद थी पर खुश हूं कि भाई को चुनाव लड़ने का मौक

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की कैराना लोकसभा सीट से मृगांका सिंह की जगह भाजपा ने इस बार प्रदीप चौधरी को उम्मीदवार बनाया है. मृगांका और उसके समर्थकों ने पार्टी के इस फैसले का विरोध किया था, लेकिन अब मृगांका का कहना है कि टिकट की उम्मीद थी, लेकिन अब वह खुश हैं कि उनके भाई को चुनाव लड़ने का मौका मिला है. मृगांका का यह बयान उनके नाराज होने और चुनाव का बायकॉट करने की कथित धमकी के बाद आया है. मृगांका ने न्यूज एजेंसी से कहा, 'प्रदीप चौधरी भी मेरे भाई हैं. बहन को भी टिकट की उम्मीद थी, लेकिन जब मेरे भाई को टिकट मिल गई तो मैं उनके लिए प्रचार कर रही हूं. पार्टी की नेता होने के नाते मैं पूरी कोशिश कर रही हूं कि मेरा भाई संसद पहुंचे. मेरे समर्थक कुछ समय के लिए गुस्सा थे, लेकिन अब सब चीजें सही हो गई हैं.

हम सभी लोग प्रदीप जी को सांसद बनाने की पूरी कोशिश कर रहे हैं. दिवंगत भाजपा नेता हुकुम सिंह की बेटी मृगांका 2018 में कैराना उप चुनाव में आरएलडी की तबस्सुम हसन से हार गई थीं. हालांकि, अब पार्टी ने इस सीट से प्रदीप चौधरी को उतारा है. मृगांका के बारे में बातचीत करते हुए प्रदीप चौधरी ने कहा, 'मृगांका हमारे साथ हैं. हमें लोगों का पूरा समर्थन मिल रहा है.' वहीं दूसरी ओर तबस्सुम हसन ने कहा, 'भाजपा ने इस बार प्रदीप चौधरी को इस सीट से उतारा है, लेकिन इससे कोई फर्क नहीं पड़ेगा. कहीं ना कहीं लोग नाराज हुए हैं, उन्होंने मृगांका के पिता हुकुम सिंह को कई सालों तक काम करते हुए देखा है. मैं अभी कुछ नहीं कह सकती कि भाजपा का यह कदम मेरे पक्ष में होगा या नहीं, लेकिन हम लोग पूरी कोशिश कर रहे हैं.'